Wednesday, November 30, 2022
Homeडिवाइन (आध्यात्म की ओर)तीर्थ पुरोहितों के विरोध के बाद 30 जून तक टली चारों धाम...

तीर्थ पुरोहितों के विरोध के बाद 30 जून तक टली चारों धाम की यात्रा, केवल स्थानीय श्रद्धालुओं को ही मिलेगी अनुमति

कोरोना संक्रमण को लेकर तीर्थ पुरोहित और पंडा समाज के विरोध को देखते हुए चारधाम यात्रा 30 जून तक टल गई है। सिर्फ स्थानीय श्रद्धालुओं को ही दर्शन की अनुमति होगी। जिलाधिकारी के माध्यम से प्रतिदिन सीमित संख्या में स्थानीय श्रद्धालुओं को दर्शन के लिए अनुमति दी जाएगी।
चमोली, रुद्रप्रयाग और उत्तरकाशी जिले के जिलाधिकारियों की रिपोर्ट के आधार पर उत्तराखंड देवस्थानम बोर्ड ने 30 जून तक यात्रा को स्थगित करने का निर्णय लिया है। स्थानीय लोगों के अलावा किसी भी अन्य जिले या राज्य के श्रद्धालुओं को बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री के दर्शन करने की अनुमति नहीं होगी।
देवस्थान बोर्ड के सीईओ रविनाथ रमन ने बताया कि तीनों जिलों के डीएम की रिपोर्ट के आधार पर निर्णय लिया गया कि 30 जून तक स्थानीय श्रद्धालुओं को ही दर्शन की अनुमति दी जाएगी। इसके लिए जिलाधिकारी के माध्यम से प्रतिदिन के हिसाब से लोगों को जाने की अनुमति दी जाएगी। दूसरे जिले या राज्य के किसी भी व्यक्ति को चार धाम में जाने की अनुमति नहीं होगी।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments