Friday, August 19, 2022
Homeन्यूज़खुशखबरमहंगे होटल, गैस्ट हाउस छोड़िए, घूमने गए है तो भारत सरकार की...

महंगे होटल, गैस्ट हाउस छोड़िए, घूमने गए है तो भारत सरकार की इस योजना का लीजिए लाभ

भारत सरकार के पर्यटन विभाग के निर्देश पर प्रदेश के छह क्षेत्रों में पेइंगगेस्ट योजना लागू की गई है। इनमें आगरा और मथुरा के आसपास का क्षेत्र भी शामिल है। इस योजना में कोई निजी मकान मालिक अपने घर के एक हिस्से या कुछ कमरों को पर्यटकों को किराए पर उपलब्ध कराएगा। साथ ही पर्यटकों को नाश्ता भोजन की भी सुविधा देगा और बदले में निर्धारित धनराशि पर्यटकों से ले सकेगा।
पेइंग गेस्ट योजना के बाद ब्रज क्षेत्र में आने वाले पर्यटकों को महंगे होटल-गेस्टहाउसों का एक सशक्त विकल्प मिल जाएगा। इस योजना का उद्देश्य उत्तरप्रदेश के चिह्नित क्षेत्रों में स्थित पर्यटन स्थलों में पर्यटकों के लिए आवश्यक आवासीय सुविधाओं में वृद्धि के साथ साथ ऐसे भवन स्वामियों को अतिरिक्त आय का साधन उपलब्ध कराना है, जिनके पास पर्यटकों को ठहराने के लिए अतिरिक्त कमरे उपलब्ध हों। इससे स्वरोजगार को भी बढ़ावा मिलेगा। इस योजना में आवेदन मिलने के बाद पर्यटन अधिकारी स्वयं स्थल का निरीक्षण करेंगे। इसके बाद जिलाधिकारी की अध्यक्षता वाली कमेटी पर्यटन अधिकारी की रिपोर्ट के आधार पर आवेदन पर फैसला लेगी। भवन के स्तर, दी जाने वाली सुविधाएं और स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार किराया दर तय होगी।

यह रहेंगी पेइंग गेस्ट योजना की शर्तें-

1-संबंधित भवन पर उसका पूर्णरुपेण निजी स्वामित्व होना चाहिए।

2-भवन पर किसी भी प्रकार का झगड़ा विवाद लंबित नहीं होना चाहिए।

3-भवन ऐसी जगह सड़क पर स्थित हो, जहां यातायात द्वारा सुविधापूर्वक पहुंचा जा सके।

4-भवन जीर्ण अवस्था में न हो। वहां स्वच्छता हो और किसी प्रकार का प्रदूषण का खतरा न हो।

5-निजी भवन में बिजली, पानी, कम से कम तीन कमरों के मध्य एक वॉशरूम, बाथरूम और आवश्यक सुविधाएं अवश्य हों।

प्रदेश के इन क्षेत्रों में लागू की गई योजना

1-बौद्ध परिपथ- सारनाथ, कुशीनगर, पिपरहवा, श्रावस्ती एवं कौशाम्बी

2-बुंदेलखंड परिपथ-झांसी मंडल

3-आगरा परिपथ- आगरा और मथुरा के आसपास का क्षेत्र

4-लखनऊ परिपथ- लखनऊ और आसपास का क्षेत्र

5-पिथौरागढ़ तथा अन्य पर्वतीय पर्यटक क्षेत्र-रानीखेत, कोड़ियाला, औली और चम्बा

6-पर्वतीय यात्रा क्षेत्र-गंगोत्री, जमुनोत्री, यमुनोत्री, बद्रीनाथ एवं केदारनाथ

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments