Friday, August 19, 2022
Homeन्यूज़बिना मानचित्र के चल रही थी कपास की फैक्ट्री, एमवीडीए ने कर...

बिना मानचित्र के चल रही थी कपास की फैक्ट्री, एमवीडीए ने कर दी सील

मथुरा वृंदावन विकास प्राधिकरण के सचिव के आदेश पर गांव नगरिया में संचालित एक रूई की फैक्ट्री को सील कर दिया। बिना मानचित्र स्वीकृति कराए फैक्ट्री संचालित की जा रही थी, जिसकी दर्जनों शिकायतें विभिन्न माध्यमों से एमवीडीए के पास पहुंच रहीं थी। फैक्ट्री से आसपास के दर्जनों गांवों में प्रदूषण फैल रहा था।
विदित हो कि गांव गुहेता सात विसा में अगरारिया एग्रो इन्डस्ट्रीज के नाम से एक इकाई संचालित है। इकाई में कपास से रूई, विनोला निकालने का कार्य किया जाता है। एमवीडीए के सचिव ईश्वर चन्द के आदेश पर एमवीडीए के जेई अशोक कुमार, अनिरुद्ध यादव, मनीष तिवारी के नेतृत्व में एक टीम ने अचानक इकाई पर पहुंच संचालक से पूछताछ की और इकाई के मानचित्र एवं प्रदूषण से संबंधित कागजाद दिखाने के लिए कहा। संचालक दोनों ही मामलों से जुड़े कोई भी दस्तावेज नहीं दिखा सका जिस कारण अधिकारियों ने इकाई को सील कर दिया। सील करने वाले अधिकारियों ने बताया शशि अग्रवाल पत्नी सतीश अग्रवाल खसरा संख्या 286 में कृषि भूमि पर संचालित की जा रही है। इतना ही नहीं इकाई के मानचित्र को एमवीडीए से स्वीकृत नहीं कराया गया और न ही प्रदूषण नियंत्रक मानक पूरे किए गए हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments