Tuesday, November 29, 2022
Homeन्यूज़राजीव एकेडमी के छात्र-छात्राओं को बताए आर्थिक तंगी से निपटने के उपाय,...

राजीव एकेडमी के छात्र-छात्राओं को बताए आर्थिक तंगी से निपटने के उपाय, आनलाइन गेस्ट लेक्चर में अमीलिया सईद ने साझा किए विचार

मथुरा। राजीव एकेडमी फार टेक्नोलाजी एण्ड मैनेजमेंट में एम.बी.ए. अंतिम वर्ष के छात्र-छात्राओं के लिए सोमवार को आनलाइन गेस्ट लेक्चर का आयोजन किया गया। मुख्य वक्ता टी.आर.एल. नाउ की डायरेक्टर आपरेशन अमीलिया सईद ने वैश्विक महामारी के इस दौर में छात्र-छात्राओं को आर्थिक तंगी से निपटने के उपाय बताते हुए उन्हें मौजूदा दौर में अपने खर्चों में कटौती करने पर जोर दिया। गेस्ट लेक्चर का विषय था मैनेजिंग फाइनेंशियल रिसोर्सेज इन कोविड-19।
टी.आर.एल. नाउ की डायरेक्टर आपरेशन अमीलिया सईद ने कहा कि युवा पीढ़ी ही राष्ट्र के संतुलन को कायम रख सकती है क्योंकि उसके पास शक्ति और कार्य करने की अपार क्षमता है। सुश्री सईद ने कहा कि भारतीय युवा पीढ़ी को सही दिशा निर्देशन की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में सामाजिक-आर्थिक व्यवस्थाएं बनाए रखना सबसे मुश्किल काम है क्योंकि विश्व में आर्थिक स्थिति असंतुलन का खतरा बढ़ता ही जा रहा है।
अमीलिया सईद ने एम.बी.ए. के विद्यार्थियों को बताया कि कोरोना महामारी के कारण देश की आर्थिक स्थिति और प्रति व्यक्ति आय पर काफी असर पड़ा है। देश में हर समुदाय के लोगों की आर्थिक परेशानियां बढ़ रही हैं। आने वाले समय में इन परेशानियों के कम होने की सम्भावना भी कम है। इसलिए भविष्य की परेशानियों से निपटने के लिए हमें पहले से ही तैयारी कर लेनी चाहिए ताकि होने वाले नुकसान और आर्थिक तंगी से निपटा जा सके। उन्होंने इससे निपटने के सन्दर्भ में इंश्योरेंस पालिसी पर जोर देते हुए कहा कि भविष्य के लिए म्युचुअल फंड के माध्यम से बचत करना सबसे सुरक्षित है। सुश्री सईद ने कहा कि कोरोना संक्रमणकाल को देखते हुए सभी देशवासियों को अपने द्वारा किये जा रहे प्रतिदिन के खर्चों में कटौती करनी चाहिए।
उन्होंने विद्यार्थियों से जोर देकर कहा कि वे स्वयं के प्रतिदिन के खर्चों को कम करें जिससे उनके अभिभावकों पर आर्थिक तंगी का बोझ न पड़े। अमीलिया सईद ने कहा कि हम छोटी-छोटी बचत कर भविष्य के लिए बड़ी राशि सुरक्षित कर सकते हैं जोकि किसी भी आपदा के समय काम आ सकती है। छात्र-छात्राओं ने सुश्री सईद के साथ स्वयं के विचार भी साझा किये। छात्र-छात्राओं ही नहीं अभिभावकों को भी आर्थिक बचत के टिप्स काफी अच्छे लगे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments