Thursday, May 30, 2024
Homeडिवाइन (आध्यात्म की ओर)राधारानी मंदिर प्रबंध कमेटी के मंत्री सहित छह सदस्यों ने दिया इस्तीफा

राधारानी मंदिर प्रबंध कमेटी के मंत्री सहित छह सदस्यों ने दिया इस्तीफा

अध्यक्ष की मनमानी से नाखुश थे मंत्री व सदस्य
प्रबंध कमेटी के प्रकरण को लेकर 27 मार्च को होगी सुनवाई

बरसाना। लठामार होली मेला की सुरक्षा व्यवस्थाओं के लिए लाड़ली जी मंदिर में रिसीवर को हटाकर नियुक्त की गई प्रबंध कमेटी के मंत्री सहित छह सदस्यों ने सिविल जज जूनियर डिवीजन मथुरा के यहां अपना इस्तीफा दे दिया। अध्यक्ष व उपाध्यक्ष की मनमानी से प्रबंध कमेटी के मंत्री व सदस्य नाराज चल रहे थे। पिछले करीब डेढ़ माह से लाड़ली जी मंदिर के रिसीवर संजय गोस्वामी एडवोकेट व सह रिसीवर रासबिहारी गोस्वामी के बीच मतभेद चल रहा था। जिसके चलते एक माह पूर्व रिसीवर संजय गोस्वामी ने सिविल जज जूनियर डिवीजन के यहां अपना इस्तीफा दे दिया लेकिन कोर्ट ने इस्तीफा स्वीकार नहीं किया था। रिसीवर व सह रिसीवर के मध्य विवाद थमते न देख 27 फरवरी को सिविल जज जूनियर डिवीजन मथुरा ने नवनियुक्त लाड़ली जी महाराज प्रबंध कमेटी को लठामार होली मेला की सुरक्षा व्यवस्था हेतु मंजूरी दे दी। जिसमें छैलबिहारी गोस्वामी अध्यक्ष, जगदीश प्रसाद गोस्वामी उपाध्यक्ष, रमेश चंद गोस्वामी मंत्री थे। वहीं जगदीश गोस्वामी, बाबूलाल गोस्वामी, दीपक गोस्वामी, ब्रजेश गोस्वामी, नृत्यगोपाल गोस्वामी, दाऊदयाल गोस्वामी, बलराम गोस्वामी, विद्या शरण गोस्वामी, बाबूलाल गोस्वामी सदस्य थे। लठामार होली मेला पर व्यवस्थाओं को लेकर अध्यक्ष व उपाध्यक्ष की मनमानी के चलते प्रबंध कमेटी के मंत्री रमेश चंद गोस्वामी नाराज चल रहे थे। जिसके चलते रमेश चंद गोस्वामी ने 5 मार्च को सिविल जज जूनियर डिवीजन के यहां अपना इस्तीफा दे दिया वहीं शुक्रवार को कमेटी के सदस्य जगदीश गोस्वामी, बाबूलाल गोस्वामी, दीपक गोस्वामी, ब्रजेश गोस्वामी, नृत्य गोपाल गोस्वामी, दाऊदयाल गोस्वामी ने सिविल जज जूनियर डिवीजन के यहां अपना इस्तीफा दे दिया है। प्रबंध कमेटी के मंत्री रमेश चंद गोस्वामी ने बताया कि अध्यक्ष छैलबिहारी गोस्वामी अपनी मनमानी कर रहे हैं। मंदिर की मान मर्यादा ताक पर रख दी गई थी। जिसके चलते कमेटी के छह सदस्य भी नाराज थे। मंदिर कमेटी के प्रकरण को लेकर सिविल जज जूनियर डिवीजन के यहां 27 मार्च को सुनवाई है।

सदस्यों को अपने चुने जाने की नहीं थी जानकारी

प्रबंध कमेटी के चुने हुए सदस्यों ने बताया कि उन्हें अपने सदस्य बनने की जानकारी तक नहीं थी। कई सदस्यों ने बताया कि कमेटी के गठन होने की जानकारी हमें नहीं दी गई। दो दिन पहले ही हमें कमेटी में अपने नाम होने की जानकारी मिलते ही हमने इसका विरोध किया और अपना त्यागपत्र सिविल जज जूनियर के यहां जाकर सुपुर्द कर दिया है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments