Thursday, July 25, 2024
Homeडिवाइन (आध्यात्म की ओर)ब्रिटिश पार्लियामेंट लंदन की सुर्खियों में छाए भागवत प्रवक्ता अनिरुद्धाचार्य महाराज

ब्रिटिश पार्लियामेंट लंदन की सुर्खियों में छाए भागवत प्रवक्ता अनिरुद्धाचार्य महाराज

  • अनिरुद्धाचार्य महाराज को सर्वोच्च सम्मान “वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड लंदन” से किया सम्मानित
  • ब्रिटिश पार्लियामेंट में गौरी गोपाल आश्रम के संस्थापक को मिला अभूतपूर्व सम्मान
  • अनिरुद्धाचार्य महाराज ने कहा : यह सिर्फ मेरा नहीं पूरे गौरी गोपाल परिवार का सम्मान

वृंदावन। गौरी गोपाल आश्रम संस्थान के संचालक प्रख्यात भागवत प्रवक्ता अनिरुद्धाचार्य महाराज के द्वारा इतनी सुन्दर और विशाल सेवाएं श्री धाम वृंदावन में चल रही हैं कि आज उनकी ख्याति केवल भारतवर्ष में नहीं बल्कि पूरी दुनिया में उनकी चर्चा हो रही है। अपनी मधुर आवाज से कथा सुनाकर लोगों को सनातन धर्म से जोड़ रहे हैं। साथ ही मानवता का पाठ पढ़ाते हुए लोगों की सेवा, जीवों पर दया और भक्ति करते हुए श्रेष्ठ जीवन जीना भी सीखा रहे हैं। जिसके लिए उन्हें समय-समय पर सम्मान तो मिलता ही है अपने धर्म को आगे बढ़ाने का श्रेय भी जाता है।
सनातन धर्म की अलख जगाकर घर-घर तक मानवता और भक्ति को पहुंचाकर सबसे बड़ा यूट्यूब का परिवार बनाने एवं बिना किसी से भेदभाव किए सैकड़ों वृद्ध माताओं की अद्भुत सेवा, साथ ही गौ माताओं, संतों, भक्तों और अन्य जीवों पर मानवता की करुणा दिखाते हुए जो कार्य पूज्य महाराज जी कर रहे हैं उसके लिए अनिरुद्धाचार्य महाराज को ब्रिटिश पार्लियामेंट लंदन, (यू के) में वहां के सर्वोच्च सम्मान “वर्ल्ड बुक ऑफ रिकॉर्ड लंदन” द्वारा नाम दर्ज करते हुए सम्मानित किया गया। जो कि हमारे लिए बड़े गौरव की बात है…. सबसे अच्छी बात हम देशवासियों के लिए तब रही जब ये सम्मान पाकर भी महाराज जी वहां पार्लियामेंट में बोले कि ये सम्मान सिर्फ मेरा सम्मान नहीं है बल्कि पूरे भारतवर्ष देशवासियों और गौरी गोपाल आश्रम परिवार से जुड़े सभी भक्तों का भी सम्मान है। आप सब से प्राप्त इस प्यार- स्नेह और आशीर्वाद के लिए में सदैव आपका ऋणी रहूंगा और यूही निरंतर आप सब की सेवा करता रहूंगा।
इस सम्मान समारोह के दौरान वहां ब्रिटिश पार्लियामेंट में मध्य प्रदेश के गवर्नर महामहिम मंगू भाई पटेल, राजराजेश्वर गुरुजी, महाराष्ट्र के सांसद रामदास आठवले एक भारतीय राजनीतिज्ञ तथा वर्तमान में भारत सरकार के केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री और भारत के वरिष्ठ सदन राज्यसभा के सदस्य भी उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments