Monday, April 22, 2024
Homeन्यूज़जिन्दगी की ऊर्जा और दिशा है पर्यटन

जिन्दगी की ऊर्जा और दिशा है पर्यटन

वृंदावन। सैर कर दुनिया की गालिब फिरये जिन्दगानी कहाँ.. ये जुमला आज की भागमभाग भरी जिन्दगी के लिए बहुत सुकून देने वाला है। सुबह से लेकर शाम तक आपाधापी में पर्यटन एक नई ऊर्जा भर देता है। ऐसे ही भावों से भरकर वृन्दावन पब्लिक स्कूल की मातृ शक्ति समस्त सहकर्मियों ने ऐतिहासिक स्थल व नई दिल्ली की सैर का कार्यक्रम तय किया।
गौरतलब है कि आगामी 8 मार्च महिला दिवस से पूर्व मथुरा मार्ग स्थित वृन्दावन पब्लिक स्कूल की महिला अध्यापिकाओं ने नारी शक्ति का परिचय देते हुए दिल्ली शहर का भ्रमण किया। म्यूजियम में ऐतिहासिक धरोहरों को देखकर समृद्ध भारत का परिदृश्य आँखों के सामने उपस्थित हो गया। अमृत उद्यान में रंग बिरंगे फूलों की क्यारियाँ मानो धरती पर स्वर्ग की कल्पना करा रही थीं।


महिला दिवस के उपलक्ष में विद्यालय द्वारा सभी के लिए पर्यटन कार्यक्रम की रूपरेखा तैयार करना समस्त विद्यालय परिवार के लिए हर्ष व उल्लास का विषय रहा। जिसके लिए समस्त सदस्यों ने विद्यालय की निदेशिका निधि शर्मा के प्रति आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि महिलाएं परिवार, संस्था, समाज व राष्ट्र की नींव हैं। इसके लिए महिलाओं को शारीरिक व मानसिक रूप से स्वस्थ रहना अनिवार्य है। पर्यटन या भ्रमण जीवन के ऊबाउपन को दूर करता है व हमारे मन-मस्तिष्क में नई चेतना, स्फूर्ति का संचार करता है।
पर्यटन के इस अद्भुत कार्यक्रम में प्रधानाचार्या कृति शर्मा के साथ-साथ रागिनी श्रीवास्तव, सीमा पाहूजा, स्वेका राज, सपना शर्मा, जूही मिश्रा, सर्वदा वर्मा, अभिलाशा सारस्वत, लवि अग्रवाल, रिचा दुबे, प्रियदर्शिनी आचार्य मौजूद रहे।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments