Tuesday, August 9, 2022
Homeडिवाइन (आध्यात्म की ओर)श्री कृष्ण जन्मस्थान संस्थान में जन्माष्टमी का पर्व स्थगित

श्री कृष्ण जन्मस्थान संस्थान में जन्माष्टमी का पर्व स्थगित

रिपोर्ट रवि यादव
कोरोना महामारी का कहर जहां चारों तरफ दुनिया में अभी कहर बरपा रहा है वही ब्रजमंडल भी इससे अछूता नहीं है संपूर्ण भारत में मनाए जाने वाला श्री कृष्ण जन्माष्टमी का पर्व और मथुरा जन्मभूमि पर भगवान श्री कृष्ण के दर्शन करने वाले भक्त इस बार श्री कृष्ण जन्मस्थान पर नहीं आ पाएंगे। कोरोनावायरस के चलते मथुरा के जिला मजिस्ट्रेट जिलाधिकारी सर्वज्ञ राम मिश्र द्वारा यह आदेश दिया गया है जिस तरह से संपूर्ण भारत में कोरोना महामारी का कहर चल रहा है उसको लेकर के सावधानी अति आवश्यक है उत्तर प्रदेश सरकार भी किसी प्रकार का खतरा मोल लेना नहीं चाहती। इसी के मद्देनजर पूर्व के दिनों में सभी मंदिरों के सेवायतों से सुझाव मांगे गए थे। जिसमें श्री कृष्ण जन्मस्थान सेवा संस्थान के सचिव कपिल शर्मा द्वारा कोरोना महामारी के चलते आम श्रद्धालुओं के लिए जन्मभूमि परिसर में प्रवेश निषेध की बात कही इसी तरह से वृंदावन के जगत गुरु कृपालु परिषद यानी प्रेम मंदिर में आमजन भक्तों का प्रवेश वर्जित रहेगा,, वही ठाकुर बांके बिहारी मंदिर में भवन के फर्श के जीर्णोद्धार एवं कोरोनावायरस के तहत आम श्रद्धालुओं के लिए मंदिर बंद रखने का फैसला लिया गया है। इसी के मद्देनजर जिलाधिकारी द्वारा यह फैसला लिया गया है कि सार्वजनिक आयोजन के लोक स्वास्थ्य एवं जनहित को दृष्टिगत रखते हुए बाहर से आने वाली भीड़ को प्रतिबंधित करते हुए जनपद के सभी मंदिरों में भीड़ एकत्रित करने एवं सार्वजनिक आयोजन को महामारी कोविड-19 के दृष्टिगत निषिद्ध किया जाता है। इस दौरान मंदिर प्रबंधकों द्वारा मंदिरों के अंदर पूजा कार्यक्रम परंपरागत रूप से किए जा सकते हैं। इस पूजा कार्यक्रम के दौरान मंदिर प्रबंधन द्वारा महावारी कोविड-19 की गाइडलाइन प्रोटोकॉल का अनुपालन सुनिश्चित करना होगा इसके साथ ही सोशल डिस्टेंसिंग फेस मास्क का प्रयोग कराया जाना भी आवश्यक होगा यह आदेश लागू कर दिया गया है। वहीं दूसरी ओर विश्व प्रसिद्ध द्वारकाधीश मंदिर में मनाए जाने वाली श्री कृष्ण जन्माष्टमी को ले करके अभी मंदिर प्रशासन का कोई निर्णय नहीं आया है, लेकिन यह अंदाजा लगाया जा रहा है कि आम जनमानस के लिए द्वारकाधीश मंदिर में भी पूजा-अर्चना करना संभव नहीं होगा,, श्री कृष्ण जन्माष्टमी के पर्व पर मथुरा जनपद के मंदिरों में आम श्रद्धालुओं के लिए प्रवेश नहीं होगा,, इस बार श्रद्धालुओं और भक्तों के लिए गहरा आघात है हर किसी को वर्ष में एक बार इंतजार रहता है अपने ठाकुर के दर्शन का ,,लेकिन इस बार कोरोनावायरस सभी लोगों को मजबूर कर दिया है कि वह भगवान श्रीकृष्ण का स्मरण अपने घर में रहकर करें और भगवान से प्रार्थना करें कि यह बीमारी जल्द से जल्द इस दुनिया से विदा ले ले।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments