Tuesday, August 9, 2022
Homeन्यूज़सचिव द्वारा किया गया जिला कारागार का आकस्मिक निरीक्षण

सचिव द्वारा किया गया जिला कारागार का आकस्मिक निरीक्षण

उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के निर्देशों के अनुपालन में तथा माननीय जनपद न्यायाधीश/अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण मथुरा श्रीमती साधना रानी ठाकुर के निर्देशानुसार सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, मथुरा श्रीमती दीक्षाश्री द्वारा आज जिला कारागार मथुरा का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के दौरान जेल अधीक्षक श्री शैलेंद्र कुमार मैत्रेय, डिप्टी जेलर संदीप कुमार, जेल चिकित्सक डॉ उपेंद्र सोलंकी, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पैनल अधिवक्ता श्री अरशद हुसैन रिजवी व पराविधिक स्वयंसेवक श्री देवकीनंदन शर्मा उपस्थित रहे।
पाकशाला (रसोईघर) का निरीक्षण किया गया तो पाया कि कुछ बंदी रसोई घर में खाना बना रहे थे। बंदियों हेतु बनाए गए भोजन की गुणवत्ता की जांच की गई तो काशीफल की सब्जी, उड़द की दाल तथा रोटी की व्यवस्था ठीक पाई गई तथा रसोई घर में साफ सफाई पाई गई। रोटी पकाने की एक मशीन खराब पाई गई, जिसको अविलंब ठीक कराने के निर्देश दिए गए। रसोई घर की छत कुछ जगह से क्षतिग्रस्त पाई गई, जिससे बरसात का पानी रसोई में टपक रहा था। डिप्टी जेलर को निर्देशित किया गया कि वह छत की अविलंब मरम्मत कराएं।
जिला कारागार के वीडियो कॉन्फ्रेंस हॉल में लगभग 30 बंदियों की विधिक समस्याओं को सोशल डिस्टेंसिंग व सरकार के द्वारा कोविड-19 के संबंध में जारी दिशा-निर्देशों का पालन करते हुए सचिव द्वारा सुना गया तथा उनका निराकरण किया गया। वहां उपस्थित पैनल अधिवक्ता द्वारा विधिक परामर्श भी दिया गया। कुछ बंदियों द्वारा अधिवक्ता न होना बताया गया, जिसके संबंध में उचित निर्देश दिए गए। कुछ बंदियों द्वारा अपने अधिवक्ता से भेंट/वार्ता ना होने की समस्या बताई गई, जिस के संबंध में जेल अधीक्षक को निर्देशित किया गया कि वह नियमानुसार मुकदमों में नियुक्त अधिवक्ताओं को बंदियों से भेंट/वार्ता कराने हेतु प्रबंध करें।
अन्य किसी बंदी ने किसी प्रकार की समस्या से अवगत नहीं कराया।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments