Friday, October 22, 2021
Homeस्वास्थ्यNovel Coronaदेश में कोविड के 30,941 नए मामले, 350 और लोगों की संक्रमण...

देश में कोविड के 30,941 नए मामले, 350 और लोगों की संक्रमण से मौत


नयी दिल्ली। भारत में एक दिन में कोविड-19 के 30,941 नए मामले सामने आने के बाद देश में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या बढ़कर 3,27,68,880 हो गई। वहीं, उपचाराधीन मरीजों की संख्या कम होकर 3,70,640 हो गई है।

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार को सुबह आठ बजे जारी किए गए अद्यतन आंकड़ों के अनुसार, संक्रमण से 350 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,38,560 हो गई। देश में अभी 3,70,640 लोगों का कोरोना वायरस संक्रमण का इलाज चल रहा है, जो कुल मामलों का 1.13 प्रतिशत है। मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 97.53 प्रतिशत है।

आंकड़ों के अनुसार, देश में अभी तक कुल 52,15,41,098 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई है, जिनमें से 13,94,573 नमूनों की जांच सोमवार को की गई। दैनिक संक्रमण दर 2.22 प्रतिशत है। वहीं, साप्ताहिक संक्रमण दर 2.51 प्रतिशत है, जो पिछले 67 दिन से तीन प्रतिशत से कम है। देश में अभी तक कुल 3,19,59,680 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और कोविड-19 मृत्यु दर 1.34 प्रतिशत है।

देश में बृहस्पतिवार सुबह तक कोविड-19 रोधी टीकों की कुल 64.05 करोड़ खुराक दी जा चुकी हैं। देश में पिछले साल सात अगस्त को संक्रमितों की संख्या 20 लाख, 23 अगस्त को 30 लाख और पांच सितम्बर को 40 लाख से अधिक हो गई थी। वहीं, संक्रमण के कुल मामले 16 सितम्बर को 50 लाख, 28 सितम्बर को 60 लाख, 11 अक्टूबर को 70 लाख, 29 अक्टूबर को 80 लाख और 20 नवम्बर को 90 लाख के पार चले गए। देश में 19 दिसम्बर को ये मामले एक करोड़ के पार, चार मई को दो करोड़ के पार और 23 जून को तीन करोड़ के पार चले गए थे। आंकड़ों के अनुसार, देश में पिछले 24 घंटे में जिन 350 लोगों की संक्रमण से मौत हुई, उनमे केरल के 132 , ओडिशा के 67 और महाराष्ट्र के 52 लोग थे।

मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, देश में संक्रमण से अभी तक 4,38,560 लोगों की मौत हुई है, जिनमें से महाराष्ट्र के 1,37,20, कर्नाटक के 37,293, तमिलनाडु के 34,899, दिल्ली के 25,081, उत्तर प्रदेश के 22,820, केरल के 20,673 और पश्चिम बंगाल के 18,434 लोग थे।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अभी तक जिन लोगों की मौत हुई है, उनमें से 70 प्रतिशत से ज्यादा मरीजों को अन्य बीमारियां भी थीं। मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर बताया कि उसके आंकड़ों का भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के आंकड़ों के साथ मिलान किया जा रहा है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments