Thursday, July 25, 2024
Homeन्यूज़बरसाना में सरकारी डाक्टर चला रहा खुद का क्लीनिक, गलत दवा देने...

बरसाना में सरकारी डाक्टर चला रहा खुद का क्लीनिक, गलत दवा देने पर सरकारी डाक्टर को दिया नोटिस

बरसाना: चिलचिलाती गर्मी बढ़ते तापमान से की वजह से ज्यादातर लोग उल्टी व दस्त का शिकार होते है। ऐसे में झोलाछाप डॉक्टर मरीजों की मजबूरी का फायदा उठाकर उन्हें ठगते है। राधारानी के दर्शन करने आया एक श्रद्धालु को गलत दवा देकर रूपये ऐठने पर स्वास्थ विभाग ने आयुर्वेद के संविदा कर्मी डाक्टर को नोटिस दे दिया।

तीर्थ स्थल बरसाना में रोजाना हजारों श्रद्धालु दर्शन करने आते है। ऐसे में बढ़ते तापमान की वजह से श्रद्धालुओं की तबियत बिगड़ जाती है, लेकिन श्रद्धालुओं की मजबूरी का फायदा उठाकर झोलाछाप डाक्टर गलत दवा दे देते है। कस्बे में एक दर्जन से अधिक झोलाछाप डाक्टर अपना खुद का क्लीनिक खोले बैठे है। 18 मई को फरीदाबाद के बाटा चौक के रहने वाले हरी सिंह राधारानी के दर्शन करने बरसाना आए थे। इस दौरान गर्मी के चलते उन्हें उल्टी व चक्कर आने लगे। जिसके चलते श्रद्धालु हरी सिंह ने पुराना अड्डा पर स्थित डाक्टर लक्ष्मीचंद क्लीनिक पर उपचार कराया। जिसके चलते उनकी तबियत और बिगड़ गई। आरोप है कि उपचार के नाम पर डाक्टर लक्ष्मीचंद ने उनसे 2200 रुपए ले लिए। श्रद्धालु की शिकायत पर स्वास्थ विभाग द्वारा बुधवार को डाक्टर लक्ष्मींचन्द को नोटिस दिया गया। डाक्टर लक्ष्मीचंद संविदा कर्मी है जिनकी तैनाती कामर गांव में स्थित प्राथमिक चिकित्सालय पर है। सामुदायिक स्वास्थ केंद्र के प्रभारी डा मनोज वशिष्ठ ने बताया कि श्रद्धालु की शिकायत पर डाक्टर लक्ष्मीचंद को नोटिस दे दिया गया। जिस समय उन्हें नोटिस दिया गया वो अपनी ड्यूटी की बजाए खुद के क्लीनिक पर मौजूद मिले। जबकि डाक्टर लक्ष्मीचंद आयुर्वेद के डाक्टर है, लेकिन उपचार एलोपैथिक का करते है। दो दिन के अंदर उनसे जवाब मांगा गया है। जिसके बाद उनके क्लीनिक को सील कर एफआईआर दर्ज कराई जाएगी।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments