Sunday, September 25, 2022
Homeन्यूज़न्यूज़जीएलए रसायन विभाग के रिसर्चरों का पिगमेंट की मजबूती पर रिसर्च, पेटेंट...

जीएलए रसायन विभाग के रिसर्चरों का पिगमेंट की मजबूती पर रिसर्च, पेटेंट ग्रांट


मथुरा। जीएलए विश्वविद्यालय, मथुरा के रसायन विभाग के रिसर्चरों ने सफेद पेन्ट 1⁄4पिगमेंट1⁄2 को चमकदार और सस्ता बनाने का नया तरीका खोजा है। काफी लंबे समय के रिसर्च के बाद सफलता हासिल हुई है। सफलता के बाद इस रिसर्च का पेटेंट भी ग्रांट हो चुका है।


सफेद पेन्ट 1⁄4पिगमेंट1⁄2 को दिवालों अथवा गाडियों सहित विभिन्न जगहों पर इस्तेमाल के बाद तय अवधि से पहले ही रंग बदला हुआ देखने को मिल सकता है और हल्के पीलेपन की स्थिति बन जाती है। सफेद पेन्ट की इस स्थिति को न आने देने तथा वस्तु को चमकदार बनाये रखने के लिए जीएलए विश्वविद्यालय, मथुरा के रसायन विभाग के रिसर्चरों ने टीआईओ2 पर रिसर्च कर सफलता पायी और पेटेंट पब्लिश कर ग्रांट कराया है।


रसायन विभाग के एसोसिएट प्रोफेसर डॉ. प्रबल प्रताप प्रताप सिंह ने बताया कि सफेद पेन्ट को चमकदार बनाने के लिए टीआईओ2 पदार्थ का उपयोग किया जाता है। इस पदार्थ का अत्याधिक प्रयोग होने से इसकी उपलब्धता कम होती जा रही है। उपयुक्त समस्या को ध्यान में रखते हुए रसयान विभाग की टीम
ने इस दिषा में अनुसंधान किया। परिणाम स्वरूप टीआईओ2 का कम प्रयोग करते हुए ‘‘माइक्रोपार्टीकल्स ऑफ क्योलिन कोटेक टाइटेनियम ऑक्साइड‘‘ बनाया। डॉ. सिंह ने आगे बताया कि रसायन विभाग की रिसर्चर दीक्षा गुप्ता व सुष्मिता प्रमाणिक ने प्रो. पंचानन प्रमाणिक, विभागाध्यक्ष प्रो. डीके दास, प्रो. प्रबल प्रताप सिंह व डॉ. योगेन्द्र कुमार के पर्यवेक्षण में कार्य को सफलता पूर्वक पूर्ण किया।

डीन रिसर्च प्रो. अनिरूद्ध प्रधान एवं एसोसिएट डीन रिसर्च प्रो. कमल षर्मा ने बताया कि रसायन विभाग
के प्रोफेसरों द्वारा किया गया रिसर्च और उसका पेटेंट ग्रांट होना गर्व की बात है। यह रिसर्च रसायन
विभाग की लैबों में आधुनिक उपकरणों के माध्यम से अमल में लाये जा रहे हैं। विभाग में होने वाले प्रत्येक
रिसर्च के बारे में और उन पर अनुसंधान करने के लिए छात्रों को आगे ले जाने के प्रयास जारी हैं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments