Tuesday, August 9, 2022
Homeन्यूज़न्यूज़कोरोना से प्रभावित व्यापारियों को लाभ दे गया मुड़िया पूर्णिमा मेला

कोरोना से प्रभावित व्यापारियों को लाभ दे गया मुड़िया पूर्णिमा मेला

चनोरी,चिड़वा, पेड़ा, दूध, चाय, सामान स्टैंड संचालकों ने कमाया अच्छा मुनाफा
पांच दिवसीय मेला में मंदिरों में भी आया अच्छा चढ़ावा

कमल सिंह यदुवंशी
गोवर्धन।
कोरोना से प्रभावित व्यापारियों को इस बार मुड़िया मेला में अच्छा व्यापार हुआ है। पांच दिवसीय मुड़िया मेले में चनोरी, चिड़वा, पेड़ा, दूध, चाय, सामान स्टैंड संचालकों ने 2 करोड़ मुनाफा कमाया है।  अनुमानित 1 करोड़ से अधिक श्रद्धालुओं ने गोवर्धन पहुंच कर मन्नत मांगी। श्रद्धालुओं के आगमन से व्यापार भी इस बार अच्छा हुआ है। कोरोना के दो साल बाद लगे इस मेला में भीड़ के आगमन को देखते हुए गोवर्धन के प्रसिद्ध गिरिराजजी मंदिरों की सेवा के ठेका 3.50 करोड़ में उठाए गए थे। मंदिरों में भी अच्छा चढ़ावा आया है। 

मुड़िया मेले में स्थानीय व्यापारियों का करोड़ो का व्यापार होता है। लेकिन 2020-21 में कोरोना महामारी के चलते गोवर्धन में राजकीय मुड़िया मेले का आयोजन नहीं हुआ था। इससे गोवर्धन का व्यापारी बुरी तरह प्रभावित हो गया था। 2022 में मुड़िया मेले का आयोजन 8 जुलाई से शुरू हुआ तो व्यापारियों में फड़ सजा लिए। सातकोसिय परिक्रमा मार्ग में जगह-जगह चिड़वा चनोरी,पेड़ा, दूध, चाय, सामान स्टैंड की दुकान खोलकर इन व्यापारियों ने व्यापारियों ने करीब 2 करोड़ मुनाफा कमाया।

इस मेला में सम्पूर्ण व्यापार की बात करें तो मुनाफे का आंकड़ा 50 से 60 करोड़ होगा। कोरोना महामारी के बाद मुड़िया मेला सम्पन्न हुआ है। भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के जिला महामंत्री संजीव खंडेलवाल ने बताया कि मुड़िया मेले में 1 करोड़ से अधिक श्रद्धालु भक्तों के आगमन का अनुमान है। 5 दिनों में सम्पूर्ण व्यापार का अनुमानित आंकड़ा 60 करोड़ के आसपास है। 

मुकुट मुखारबिंद मंदिर के सेवायत संजय शर्मा ने बताया कि मुड़िया मेले पर गोवर्धन के प्रसिद्ध गिरिराजजी मंदिरों के सेवा का ठेका  करीब 3.50 करोड़ के उठाए गए थे। मेला के 5 दिनों में मंदिरों में अनुमानित चढ़ावा 1.25 करोड़ के आस पास आने की उम्मीद है। गुटखा व्यापारी राजकुमार मामा ने बताया कि गोवर्धन का व्यापारी कोरोना से बुरी तरह प्रभावित था। दो साल मेला भी नहीं लगा। इस बार मुड़िया मेले से व्यापार अच्छा हुआ है। खासकर सब्जी, परचून, पेड़ा, दूध, चाय, चनोरी चिड़वा, पोशाक, श्रृंगार, फूल माला, सामान स्टैंड संचालकों को अच्छा लाभ हुआ है। 


भारतीय उद्योग व्यापार मंडल के गोवर्धन नगर अध्यक्ष गौतम खंडेलवाल ने कहा गोवर्धन के मुड़िया मेले से लोगों बड़ी उम्मीद रहती है। इस मेला में गरीब मजदूर वर्ग के लोग भी फुटपाथ पर चिड़वा चनोरी, दूध, फूल आदि की दुकान खोलकर मुनाफा कमाते हैं। इस मेले में बड़े व्यापारियों के अलाबा गरीब मजदूर वर्ग के लोगों ने भी लाभ उठाया है। 

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments