Friday, October 22, 2021
Homeन्यूज़न्यूज़ईसापुर प्राथमिक विद्यालय सीमा विवाद में फंसा, बच्चों को सता रहा मच्छरजनित...

ईसापुर प्राथमिक विद्यालय सीमा विवाद में फंसा, बच्चों को सता रहा मच्छरजनित बीमारी का खतरा

मथुरा। ईसापुर का प्राथमिक विद्यालय सीमा विवाद में उलझ कर रह गया है। राया ब्लॉक और मथुरा-वृंदावन नगर निगम के सीमा विवाद में फंसे विद्यालय में पढ़ रहे नन्हें मुन्नों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। डेंगू, मलेरिया और वायरल बुखार घर-घर फैल रहा है। इस बीच स्कूल में न ही सफाई व्यवस्था का कोई इंतजाम है न ही कीटनाशक दवाओं का छिड़कांव स्कूल में कराया जा रहा है। इससे बच्चों को मच्छर जनिक बीमारियों का खतरा बना हुआ है।


राया ब्लॉक में ईसापुर प्राथमिक विद्यालय जोकि राया ब्लॉक और नगर निगम की सीमा विवाद में फंस गया है। हालांकि नए परिसीमन के अनुसार वर्तमान में यह स्कूल मथुरा वृंदावन नगर निगम का वार्ड संख्या 14 में है। नगर निगम के गठन से पहले यह स्कूल राया ब्लाक के अंतर्गत आता था लेकिन सीमा विवाद में फं से बच्चों के इस स्कूल की जरुरी आवश्यकताएं और साफ सफाई राम हवाले हैं। यही कारण है कि अब इसकी हालत काफी खस्ता हो गई है। स्कूल के समीप बड़ा नाला है जिसमें झाड़ियां उगी हुई हैं और कीचड़ भरी हुई है। इसके पास में ही छोटे-छोटे बच्चों की क्लास है जिनसे मच्छर जनिक बीमारी का खतरा बना हुआ है।

प्राथमिक विद्यालय के अंदर का नजारा जब देखा गया तो स्कूल के अंदर गाय चर रही थी साफ-सफाई का कोई नामोनिशान नहीं था। नल भी टूटे पड़े हुए थे और पूरे स्कूल में घास उगी हुई थी जिनमें मच्छर पैदा हो रहे थे।
स्कूल की प्रभारी रजनी वर्मा से बातचीत की बच्चों का यह स्कूल सीमा विवाद में फंस गया है। नगर निगम के लोग कहते हैं कि राया ब्लॉक में हैं तो राया ब्लॉक के लोग कहते हंैं यह नगर निगम में हैं। जिसके चलते सफाई और हैंडपंप की मरम्मत, कीटनाशक दवाओं का छिड़काव नहंी हो रहा है। स्कूल की सफाई और नल की मरम्मत भी वह अपने निजी खर्चे पर करा रही हैं। स्कूल में व्याप्त समस्याओं के बारे में अधिकारियों से कई बार कहा गया। इसके बावजूद समस्या जस की तस बनी है। किसी तरह का सुधार नहीं हुआ।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments