Thursday, May 30, 2024
Homeशिक्षा जगतसंस्कृति विश्वविद्यालय के छात्रों ने रैली निकाल कैंसर के प्रति किया जागरूक

संस्कृति विश्वविद्यालय के छात्रों ने रैली निकाल कैंसर के प्रति किया जागरूक

मथुरा। संस्कृति विश्वविद्यालय के विभिन्न विभागों के छात्र-छात्राओं ने ‘विश्व कैंसर दिवस’ पर जागरूकता रैली निकालकर लोगों को कैंसर के प्रति जागरूक किया। रैली में विद्यार्थी कैंसर को हराने और भारत को स्वस्थ बनाने संबंधी पोस्टर लेकर नारे लगाते हुए सबके आकर्षण का केंद्र बने।


संस्कृति स्कूल आफ मेडिकल एंड एलाइड साइंसेज द्वारा आयोजित इस रैली में फिजियोथैरेपी, एमएलटी, सीवीटी और आप्टोमैट्री के छात्र-छात्राएं शामिल हुए। रैली में सभी विद्यार्थी हाथों में कैंसर के प्रति जागरूक करने वाले संदेश लिखे पोस्टर लिए हुए थे। विद्यार्थी ‘कैंसर को हराना है, स्वस्थ भारत बनाना है’ के नारे लगाते हुए चल रहे थे। नारे लगाते विद्यार्थी लोगों के आकर्षण का केंद्र बन रहे थे। साथ में चल रही फैकल्टी लोगों के पूछने पर कैंसर की गंभीरता और इससे बचाव के उपाय बता रहे थे। रैली के साथ चल रहे शिक्षकों द्वारा अन्य विद्यार्थियों को कैंसर बीमारी के प्रति विस्तार से जानकारी दी गई और बताया गया कि हम किस तरह से इस बीमारी से अपना बचाव कर सकते हैं।


संस्कृति स्कूल आफ मेडिकल एंड एलाइड साइंसेज के विभागाध्यक्ष डा. अनिल कुमार ने विद्यार्थियों को बताया कि विश्व कैंसर दिवस कैंसर के बारे में जागरूकता बढ़ाने और इसकी रोकथाम, पहचान और उपचार को प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता है। विश्व कैंसर दिवस, 2008 में लिखे गए विश्व कैंसर घोषणा के लक्ष्यों का समर्थन करने के लिए यूनियन फॉर इंटरनेशनल कैंसर कंट्रोल (यूआईसीसी) के नेतृत्व में कार्यरत है। विश्व कैंसर दिवस का प्राथमिक लक्ष्य कैंसर और बीमारी के कारण होने वाली मौतों को कम करना है। बहुत से लोग कैंसर को दूर करने के लिए आध्यात्मिकता का भी सहारा लेते हैं। वर्तमान में, दुनिया भर में हर साल 76 लाख लोग कैंसर से दम तोड़ते हैं जिनमें से 40 लाख लोग समय से पहले (30-69 वर्ष आयु वर्ग) मर जाते हैं। इसलिए समय की मांग है कि इस बीमारी के बारे में जागरूकता बढ़ाने के साथ कैंसर से निपटने की व्यावहारिक रणनीति विकसित करना है।


रैली के आयोजन में फिजियोथैरेपी विभाग की डा. कीर्ति, सीवीटी विभाग से गौरव के अलावा आप्टोमैट्री विभाग से जगदीश सिंह, सुश्री प्रतिष्ठा, हिमानी, एमएलटी विभाग से डा. स्वीटी, डा.रूपल, सुश्री साक्षी, डा. स्वाति, डा.लोकनाथ, फिजियोथैरेपी विभाग से डा. राहुल, डा. शांति, डा. पलास, डा. करिश्मा शामिल रहीं।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments