Sunday, June 16, 2024
Homeन्यूज़न्यूज़GLA एमएससी गणित के विद्यार्थियों ने देखा मत्स्य पालन विभाग

GLA एमएससी गणित के विद्यार्थियों ने देखा मत्स्य पालन विभाग

  • भ्रमण के दौरान मत्स्य विभाग के अधिकारियों ने विद्यार्थियों को बतायी मत्स्य पालन की नीति


मथुरा। जीएलए विश्वविद्यालय, मथुरा के एमएससी गणित के विद्यार्थियों ने केन्द्रीय मत्स्य पालन विभाग का भ्रमण कर मछली पालन की नीतियों के बारे में जाना। इसके साथ ही उन्होंने इस क्षेत्र में सरकार द्वारा चलायी जा रही योजनाओं के बारे में विस्तारपूर्वक समझा। बीते दिनों एमएससी गणित के विद्यार्थियों को नई दिल्ली स्थिति केन्द्रीय मत्स्य पालन विभाग का भ्रमण कराया गया। जहां विद्यार्थियों ने मछली का चारा एवं मत्स्य उत्पाद उद्योगों का विकास करना, मत्स्यन एवं मात्स्यिकी (अंतर्देशीय, समुद्री तथा प्रादेशिक जल के आगे) तथा इससे जुड़े कार्यकलापों जिसमें अव संरचना विकास, विपणन, निर्यात एवं संस्थागत व्यवस्थाएं इत्यादि शामिल हैं को बढ़ावा देने के बारे में जानकारी हासिल की। इसके साथ विद्यार्थियों मछुआरों एवं मत्स्यन से जुड़े लोगों का कल्याण एव उनके जीवनयापन को विभाग द्वारा उठाये जाने वाले कदमों के बारे में भी विस्तार पूर्वक जाना।

प्राकृतिक आपदा के कारण मत्स्य भण्डार की हानि से संबंधित मामले, मछली को प्रभावित करने वाले संक्रामक या छूत की बीमारियों या कीटनाशक का एक राज्य से दूसरे राज्यों में विस्तार की रोकथाम के संबंध में विधानों के बारे में वहां अधिकारियों से विस्तारपूर्वक जानकारी को अपनी नोट बुक में दर्ज किया। विद्यार्थियों को भ्रमण के दौरान मत्स्य पालन विभाग की निदेषक डाॅ. नियति जोषी ने भारत सरकार की दो मुख्य नीतियों प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना एवं मत्स्य पालन और जलीय कृषि बुनियादी ढांचा विकास निधि के बारे में भी जानकारी दी। उन्होंने विद्यार्थियों को आईटी एवं ई-गवर्नेंस सेल की कार्यप्रणाली के विषय में समझाया। भ्रमण के दौरान गणित विभाग की असिस्टेंट प्रोफेसर डॉ. स्वेता शुक्ला उनके साथ रहीं ।

भ्रमण से लौटकर विद्यार्थियों ने विभागाध्यक्ष प्रो. मनीष गोयल तथा प्रोग्राम कोऑर्डिनेटर डॉ. अमित कुमार सारस्वत से मिलकर उन्हें भ्रमण से संबंधित समस्त जानकारियां दीं और उन जानकारियों को पाठ्यक्रम में शामिल करने को कहा। प्रो. मनीष गोयल ने कहा कि इस तरह के औद्योगिक भ्रमण विद्यार्थियों के व्यवहारिक ज्ञान एवं विकास के लिए अति आवश्यक है। जीएलए विश्वविद्यालय का गणित विभाग प्रोजेक्ट बेस्ड लर्निंग और प्लेसमेंट आधारित शिक्षण व्यवस्था को सुनिश्चित करता है और इसी क्रम में इस तरह के विभिन्न औद्योगिक भ्रमण अपने छात्र छात्राओं के लिए समय-समय पर आयोजित करता है।

जम्मू कश्मीर में जीएलए के अभिषेक ने जीता गोल्ड


भारत के कला प्रदर्शन संघ और भारत गायन व नृत्य संघ द्वारा कटरा जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रीय गायन चैंपियनशिप का आयोजन किया गया। चैंपियनषिप में देष के विभिन्न राज्यों से प्रथम आए होनहारों की गायन प्रतियोगिता आयोजित की गई, जिसमें जीएलए विष्वविद्यालय, मथुरा के फार्मेसी विभाग के रिसर्च स्काॅलर अभिषेक कुमार ने 24 वर्ष से अधिक आयु वर्ग में प्रथम स्थान प्राप्त कर पूरे ब्रज मंडल सहित जीएलए विष्वविद्यालय का नाम रोषन किया। इससे पूर्व राज्य स्तर की प्रतियोगिता नवम्बर माह 2022 में मथुरा में आयोजित हुई, जिसमें भी अभिषेक ने गोल्ड मेडल प्राप्त कर नेशनल चैंपियनशिप की तरफ अग्रसर हुए। प्रतियोगिता के दौरान अभिषेक को जम्मू कश्मीर के पूर्व उपमुख्यमंत्री कबिंद्र गुप्ता ने गोल्ड मेडल देकर सम्मानित किया। फार्मेसी विभाग की विभागाध्यक्ष प्रो. मीनाक्षी वाजपेयी ने अभिषेक के उज्ज्वल भविष्य की कामना की है।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments