Friday, October 22, 2021
Homeडिवाइन (आध्यात्म की ओर)सपनों में पितृगणों का इस तरह दिखना माना जाता है अशुभ, ऐसा...

सपनों में पितृगणों का इस तरह दिखना माना जाता है अशुभ, ऐसा होने पर करें ये उपाय

पितृ पक्ष चल रहा है। इस दौरान पितरों की आत्मा की शांति के लिए उनका श्राद्ध किए जा रहे हैं। माना जाता है कि इस समय में पितर यमलोक से धरती पर अपने प्रियजनों से मिलने के लिए आते हैं। ऐसे बहुत से लोग हैं जिन्हें इस दौरान पितरों के सपने भी आते हैं। ऐसे में गरुड पुराण के मुताबिक, पितरों का सपनों में दिखना एक विशेष संकेत हो सकता है। वहीं, स्वप्न शास्त्र के मुताबिक, अगर आपको पितृ पक्ष के दौरान सपनों में पितृगण नजर आ रहे हैं तो इसका मतलब होता है कि वह आपसे नाराज हैं. ऐसे में आइए जानते हैं इन सपनों के बारे में-

पितरों का सपनों में आना- पितृपक्ष के दौरान पितरों का बार-बार सपनों में आना शुभ संकेत नहीं माना जाता है। इसका मतलब होता है कि वह कुछ कहना चाहते हैं। ऐसे में पितृ पक्ष के दौरान सभी विधियां सही तरीके से करनी चाहिए ताकि उनकी आत्मा को शांति मिल सकें।

पितरों को कष्ट में देखने वाले सपने- सपने में पितरों को कष्ट में देखना काफी अशुभ माना जाता है। इसका मतलब होता है कि वह आपसे नाराज हैं। इसके लिए इस दौरान घर में रामायण का पाठ कराना चाहिए।

सपने में यमदूत का दिखना- यमदूतों को पितरों का साथी माना जाता है। ऐसे में अगर सपने में आपको यमदूत नजर आता है तो इसका मतलब होता है कि पितर कष्ट में हैं। ऐसे में उनकी आत्मा की शांति के लिए उनकी पूजा करें और अन्न-जल का दान करें।

पूर्वजों को सपनों में रोते हुए देखना- सपने में मरे हुए व्यक्ति को रोते हुए देखना भी काफी अशुभ माना जाता है। इसका मतलब होता है कि उनकी कोई इच्छा पूरी नहीं हुई है या उन्हें शांति नहीं मिली है। ऐसे में आपको उनके नाम से चीजें दान करनी चाहिए।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments